Breaking News

BJP वर्ष 2024 को दीवाली जैसा माहौल बनाने का प्रयास में है?

Advertisements

भारतीय जनता पार्टी वर्ष 2024 को दीवाली जैसा माहौल बनाने का प्रयास में है?

Advertisements

नई दिल्ली। वर्ष 2024: को BJP ने तैयारी की 24 की रूपरेखा, दीवाली जैसा माहौल बनाने का प्रयास शुरु है। मतदाता जनता-जनार्दन को लुभाने की होगी कोशिश शुरु है। बीजेपी (BJP) ने इस बार लोकसभा चुनाव में 400 सीट जीतने का लक्ष्य रखा है. पार्टी ने आगामी चुनाव के लिहाज से अपने अभियान और तैयारियों की रूपरेखा तैयार कर ली है

Advertisements

कुछ महीनों बाद होने वाले लोक सभा चुनाव की तैयारियों में जुटी बीजेपी ने मतदाताओं को लुभाने में लिए खास नारे तैयार कर लिए हैं. पार्टी की कोशिश खासतौर पर महिलाओं, युवाओं और पहली बार वोट करने वाले मतदाताओं को लुभाने की है. इसके लिए भाजपा ने कई नारे भी तैयार कर लिए हैं.

लोक सभा चुनाव की तैयारियों को लेकर पार्टी द्वारा बनाई गई वरिष्ठ नेताओं की मंगलवार को दिल्ली में हुई बैठक में इसे लेकर एक विस्तृत योजना बनाई गई है. विरोधी दलों के गठबंधन की संभावना को देखते हुए भाजपा ने इस बार लोक सभा चुनाव में 50 प्रतिशत वोट हासिल करने का लक्ष्य रखा है ताकि पार्टी एक शानदार जीत हासिल कर सके.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता को भुना कर ऐतिहसिक जीत हासिल करने की कोशिश में जुटी भाजपा ‘अबकी बार 400 पार, तीसरी बार मोदी सरकार’ नारे के साथ चुनावी मैदान में उतरेगी. पार्टी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता को देखते हुए उनके इर्दगिर्द ‘मोदी की गारंटी’ जैसे कई अन्य नारों का भी जोर-शोर से उपयोग करेगी. युवा मतदाताओं खासकर पहली बार वोट करने जा रहे मतदताओं को लुभाने के लिए भी भाजपा ने एक नया नारा तैयार किया है. भाजपा ‘इफ यू एटीन, व्हाई आर यू वेटिंग, कम फॉर वोटिंग’ के नारे के जरिए युवा मतदाताओं को लुभाने का प्रयास करेगी.

25 जनवरी तक विशेष अभियान

पार्टी ने यह महसूस किया है कि युवा मतदाताओं ने कांग्रेस के शासनकाल को नहीं देखा है, इसलिए उन्हें कांग्रेस सरकारों के कामकाज और मोदी सरकार के कामकाज के अंतर के बारे में बताना जरूरी है. पार्टी इसके लिए भी अभियान चलाएगी. भाजपा 12 जनवरी से लेकर मतदाता दिवस यानी 25 जनवरी तक विशेष अभियान चलाएगी. पार्टी ने 22 जनवरी को अयोध्या में होने वाले रामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह समेत पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की धुंआधार रैलियां आयोजित करने का भी फैसला किया है.

बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सुनील बंसल, केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव, असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा, केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव, तरुण चुग और विनोद तावड़े सहित कई अन्य नेता मौजूद रहें. लोक सभा चुनाव को लेकर बनाई गई इस उच्चस्तरीय कमेटी की बैठक के बाद मंगलवार को ही पार्टी के केंद्रीय कार्यालय विस्तार में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की अध्यक्षता में राम मंदिर के शिलान्यास से जुड़े कार्यक्रमों की रूपरेखा तैयार करने के लिए भी अलग से बैठक हुई, जिसमें देश भर से भाजपा के 150 से ज्यादा नेता शामिल हुए.
‘रामलला की प्राण प्रतिष्ठा का निमंत्रण अगर मिलेगा तो भी नहीं जाएंगे’, सपा विधायक का एलान, बताई वजह

रूपरेखा तय
इस बैठक में अयोध्या में बन रहे राम मंदिर में 22 जनवरी को होने वाले प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर भाजपा ने अयोध्या सहित पूरे देश में विशेष कार्यक्रम चलाने के लिए एक देशव्यापी अभियान की रूपरेखा तय की. भाजपा 22 जनवरी को होने वाले रामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह से पहले, अयोध्या सहित पूरे देश के मंदिरों में 14 जनवरी से लेकर 22 जनवरी तक विशेष स्वच्छता अभियान चलाएगी.

बैठक में सभी प्रदेशों से आए नेताओं को पार्टी अध्यक्ष नड्डा ने 22 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किए जाने वाले राम मंदिर के शिलान्यास कार्यक्रम को देश भर में दिखाने की व्यवस्था करने के साथ ही इस दिन यानी 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्ठा वाले दिन शाम में देश के सभी घरों में पांच रामज्योति जलाकर देशभर में दीवाली जैसा माहौल बनाने का प्रयास करने को कहा है. इसके साथ ही भाजपा ने 22 जनवरी के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के बाद भी अगले दो महीने तक देशव्यापी अभियान चलाने की रूपरेखा बना ली है।
जिसे लेकर महाराष्ट्र की जनता-जनार्दन भारतीय जनता पार्टी को धन्यवाद सुस्वातम और अभिवादन कर रही है।

Advertisements

About विश्व भारत

Check Also

मतदानावर होणार उष्णतेचा परिणाम? हवामान विभागाचा इशारा

भारतीय हवामान विभागाने (आयएमडी) एप्रिल ते जूनदरम्यान देशातील बहुतांश भागात उष्णतेची लाट येण्याची शक्यता वर्तवली …

टोलनाके होणार बंद? नवी यंत्रणा कशी असेल?

केंद्र सरकारने पथकर संकलनासाठी ग्लोबल पोझिशनिंग सिस्टीम (जीपीएस) आधारित यंत्रणा आणण्याची योजना आखली आहे. ही …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *