Breaking News

नरेन्द्र मोदी-अमित शाह को छोड गडकरी या शिवराज को बनाएं प्रधानमंत्री : वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने दिया सुझाव

Advertisements

नरेन्द्र मोदी-अमित शाह को छोड गडकरी या शिवराज को बनाएं प्रधानमंत्री : वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने दिया सुझाव

Advertisements

टेकचंद्र सनोडिया शास्त्री: सह-संपादक रिपोर्ट

Advertisements

नई दिल्ली । वरिष्ठ कांग्रेस नेता उदित राज ने भाजपा नेता शिवराज सिंह चौहान या नितिन गडकरी को प्रधानमंत्री बनाने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि मोदी जी को लोग अजेय समझ रहे थे इसलिए पूरी ताकत हराने में नही लगाया वर्ना करीब डेढ़ लाख की जीत को हार में बदलना मुस्किल नही था। जिसके नेतृत्व में पूरा चुनाव NDA का लड़ा वो इतने कम से जीते वो नेता कैसा प्रधानमंत्री बन सकता है।

मोदी-अमित शाह नहीं, गडकरी या शिवराज बने प्रधानमंत्री, कांग्रेस के इस बड़े नेता ने दूरदर्शी सुझाव दिया है। वरिष्ठ नेता उदित राज बोले- केजरीवाल की सहानुभूति वाला वोट कहां गया?

उत्तर पश्चिमी दिल्ली सीट पर योगेंद्र चांदोलिया ने उदित राज को 2,90,849 वोटों से उत्तरी-पश्चिमी दिल्लीलोकसभा सीट से आईएनडीआईए गठबंधन के तहत कांग्रेस के प्रत्याशी उदित राज को करारी हार का सामना करना पड़ा। भाजपा के उम्मीदवार योगेंद्र चांदोलिया को 8,66,483 (58.26 प्रतिशत) मत मिले। उन्होंने राजधानी दिल्ली में सबसे बड़े अंतर (2,90,849) से जीत हासिल की है

केजरीवाल की सहानुभूति वाला वोट कहां गया?

अपनी जबर्दस्त हार पर कांग्रेस के उदित राज ने प्रतिक्रिया देते हुए मतगणना में धांधली किए जाने का आरोप लगाया है। उन्होंने एक्स पर पोस्ट कर कहा, ” चुनाव निष्पक्ष नहीं हुआ है और मैं दावे के साथ कह सकता हूं। उत्तर पश्चिमी दिल्ली लोकसभा से चुनाव लड़ा, बीजेपी कहीं दिखी नहीं। कांग्रेस और आम आदमी पार्टी दोनों का वोट कहां गया? अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी की सहानुभूति का वोट कहां गया? यूपी में जीत सुनिश्चित थी इसलिए धांधली नहीं कर सके, लेकिन बिहार, एमपी, दिल्ली और अन्य स्थानों में धांधली हुई है

Advertisements

About विश्व भारत

Check Also

MLA किरण चौधरी भाजपा में होगी शामिल : कांग्रेस को बडा झटका

MLA किरण चौधरी भाजपा में होगी शामिल : कांग्रेस को बडा झटका टेकचंद्र सनोडिया शास्त्री: …

सुनील केदारांना कसं रोखणार? विधानसभेत भाजपची नागपुरात डोकेदुखी वाढणार

देशात लोकसभा निवडणुका संपताच राज्यात विधानसभा निवडणुकीचे वारे वाहू लागले आहेत. ऑक्टोबर-नोव्हेंबर महिन्यात राज्यात विधानसभा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *