Breaking News

अयोध्या राम मंदिर को बम से उडाने की धमकी

Advertisements

‘दाऊद इब्राहिम गैंग का आतंकी मोहम्मद इंतखाब ने अयोध्या राम मंदिर को बम से उडाने की धमकियां दी। जांच मे जुटा पुलिस बल

Advertisements

टेकचंद्र सनोडिया शास्त्री: सह-संपादक रिपोर्ट

Advertisements

अररिया। बिहार की अररिया पुलिस ने मोहम्मद इंतखाब के नाम के एक शख्स को गिरफ्ताप किया है। आरोप है कि छोटा शकील के नाम से पुलिस की आपातकालीन सेवा के 112 पर कई बार फोन करके अयोध्या में बन रहे राम मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी दी थी। खुद को वह दाऊद इब्राहिम गैंग का आतंकवादी बता रहा था।

अररिया: राम मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले युवक को अररिया पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार युवक पलासी के बलुआ कालियागंज का रहने वाला है। बताया जा रहा है कि खुद को वह दाऊद इब्राहिम गैंग का आतंकी बताता था। वह फोन कर बार-बार राम मंदिर को उड़ाने की धमकी दे रहा था। एसपी के निर्देश पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मोबाइल के साथ गिरफ्तार किया है।

पुलिस के अनुसार, आरोपित युवक छोटा शकील के नाम से आकस्मिक सेवा वाली 112 नंबर पर डायल कर अयोध्या में बन रहे राम मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी दिया था। 22 जनवरी को मंदिर को बम से उड़ा देने की धमकी दिया था। गिरफ्तार युवक पलासी थाने के बलुआ कालियागंज के रहने वाला मोहम्मद इब्राहिम का पुत्र मोहम्मद इंतखाब (21 ) है। पुलिस ने उसके पास से उस मोबाइल को भी जब्त किया है, जिससे वह राम मंदिर उड़ाने की धमकी दे रहा था।

19 जनवरी को फोन कर दी थी धमकी

जानकारी के अनुसार, 19 जनवरी की शाम को युवक ने 112 नंबर पर डायल कर खुद को छोटा शकील होने और दाऊद इब्राहिम गिरोह के आतंकी होने की बात करते हुए 22 जनवरी को अयोध्या में राम मंदिर को बम से उड़ा देने की धमकी दी थी। इतना ही नहीं ईआरआरएस के 112 नंबर पर उसके बाद लगातार फोन कर धमकी देता रहा। मामला सामने आने के बाद अररिया एसपी अशोक कुमार सिंह ने तुरंत तकनीकी अनुसंधान टीम को लगा दिया।

तकनीकी अनुसंधान में पुलिस को पता चला कि धमकी देने वाला व्यक्ति और जिस मोबाइल नंबर से धमकी दी जा रही है, वह पलासी के बलुआ कालियागंज के मोहम्मद जमालुद्दीन के पुत्र मोहम्मद इब्राहिम के नाम से रजिस्टर्ड है। एसपी के निर्देश पर पलासी थाना पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए छापेमारी की और आरोपी को मोबाइल से साथ गिरफ्तार कर लिया। मामले की पुष्टि अररिया एसपी अशोक कुमार सिंह ने भी की है। हालांकि मामले में कुछ भी बोलने से वे बचते रहे। फिलहाल पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है।

Advertisements

About विश्व भारत

Check Also

सीनियर अधिवक्ता के साथ दुर्व्यवहार पर सुप्रीम कोर्ट सख्त? सरकार को नोटिस जारी! कह दी बड़ी बात

सीनियर अधिवक्ता के साथ दुर्व्यवहार पर सुप्रीम कोर्ट सख्त? सरकार को नोटिस जारी! कह दी …

“सरकार आणि अधिकारी अपयशी ठरत असताना…” : सर्वोच्च न्यायालयाचे न्यायमूर्ती भूषण गवई यांचे विधान

सर्वोच्च न्यायालयाचे न्यायमूर्ती आणि विदर्भपुत्र भूषण गवई यांचे एक मोठे विधान समोर आले आहे. “सरकार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *