Breaking News

विपक्षी INDIA गठबंधन का यूपी में फंसा पेंच! कांग्रेस को केवल 8 सीटें देने के लिए तैयार है सपा

Advertisements

विपक्षी INDIA गठबंधन का यूपी में फंसा पेंच! कांग्रेस को केवल 8 सीटें देने के लिए तैयार है सपा

Advertisements

टेकचंद्र सनोडिया शास्त्री: सह-संपादक रिपोर्ट

Advertisements

नई दिल्ली। विपक्षी INDIA गठबंधन में सीटों को लेकर अगली बैठक में चर्चा होगी. लेकिन इससे पहले ही गठबंधन में पेंच फंसता हुआ नजर आ रहा है. यूपी और बिहार समेत 3 राज्यों में तनातनी बढ़ सकती है। की अगली बैठक में आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर सीट बंटवारे पर चर्चा होने की संभावना है. लेकिन इससे पहले ही तमाम दल गठबंधन में अपनी सीटों को लेकर अलग-अलग तरह के दावे कर रहे हैं. इन दावों की वजह से उत्तर प्रदेश और बिहार समेत 3 राज्यों में पेंच फंसता हुआ नजर आ रहा है.

दरअसल, गठबंधन के लिए कांग्रेस और सपा के बीच पहले ही पेंच फंसता नजर आ रहा है. समाजवादी पार्टी इस गठबंधन में यूपी के लिए नेतृत्व करने की बात पहले ही दोहराती रही है. लेकिन अब पार्टी ने गठबंधन के लिए कांग्रेस के सामने केवल 8 सीटों का ऑफर रखा है. सूत्रों की मानें तो इन आठ सीटों में ज्यादातर शहरी सीटें हैं.

सपा द्वारा कांग्रेस को गठबंधन के लिए वाराणसी और लखनऊ जैसी 8 सीटों का ऑफर दिया गया है. सपा द्वारा ऑफर की गई सीटों में ज्यादातर ऐसी हैं जहां पार्टी का जनाधार कमजोर है. सूत्रों का दावा है कि विधानसभा चुनाव के दौरान हिंदी पट्टी के 3 राज्यों में कांग्रेस की बड़ी हार के बाद सहयोगी दल पार्टी पर दबाव बना रहे हैं.
सर्वे देखने के बाद गठबंधन पर सोचेंगी मायावती’- कांग्रेस नेता इमरान प्रतापगढ़ी का दावा
चुनाव के बाद हुई थी पहली बैठक
हालांकि सूत्रों का दावा है कि इन सभी राज्यों में कांग्रेस की कुछ और सीटों पर नजर है. इस वजह से पार्टी गठबंधन के लिए कुछ और सीटें मांग सकती है. गौरतलब है कि इंडिया गठबंधन की अंतिम बैठक दिल्ली में हुई थी. विधानसभा चुनाव के दौरान गठबंधन की बैठक नहीं हुई और उसके बाद ये पहली बैठक थी. इस बैठक में गठबंधन दलों के पार्टी प्रमुख शामिल हुए थे.

इस बैठक के दौरान पीएम पद के लिए पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने मल्लिकार्जुन खरगे के नाम का प्रस्ताव रखा था. इस प्रस्ताव का सीएम अरविंद केजरीवाल समेत कुछ और दलों ने समर्थन किया था. हालांकि बाद में खुद मल्लिकार्जुन खरगे ने ही अपने दावेदार होने का खंडन कर दिया था.

Advertisements

About विश्व भारत

Check Also

उमेदवार आणि निवडणूक चिन्ह कोणते?गडचिरोलीतील नक्षलग्रस्त दुर्गम भागातील आदिवासींचा सवाल

पुर्व विदर्भातील पाच लोकसभा मतदार संघात 19 एप्रिलला मतदान होत आहे. या पाच पैकी गडचिरोली …

नगरीय प्रशासन मंत्री कैलाश विजयवर्गीय के करकमलों लोकसभा चुनाव संकल्प-पत्र का विमोचन

नगरीय प्रशासन मंत्री कैलाश विजयवर्गीय के करकमलों लोकसभा चुनाव संकल्प-पत्र का विमोचन   टेकचंद्र सनोडिया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *