Breaking News

अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा को समर्पित कोराडी- महादुला में गाजे बाजे के साथ निकाली गई विशाल श्रीराम रैली

Advertisements

अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा को समर्पित कोराडी- महादुला में गाजे बाजे के साथ निकाली गई विशाल श्रीराम रैली

Advertisements

टेकचंद्र सनोडिया शास्त्री: सह-संपादक रिपोर्ट

Advertisements

कोराडी। भगवान श्री राम की अयोध्या में 22 जनवरी को हाेने वाली प्राण प्रतिष्ठा को समर्पित 23 जनवरी की शायंकाल एक भव्य विशाल राम रैली यात्रा कोराडी-महादुला मे निकाली गई। जय श्रीराम युवा मित्र मंडल और श्रीराम महिला मित्र मंडल के संयुक्त तत्वावधान मे निकाली गई पदयात्रा रैली कोराडी देवी मंदिर रोड हनुमान मंदिर से महामार्ग होते हुए विधुत आवास कालोनी गेट से वापस देवी मंदिर टी पाईंट पर सभा में तब्दील हूई। रैली पदयात्रा केसरिया झंडे और केसरिया पगड़ियां व गले के पटके यात्रा को भगवामय कर दिया। यह पगड़ियां पुरुष ही नहीं महिलाएं भी पहने हुए थीं। गाजे बाजे के साथ युवक नाचते कूदते पदयात्रा रैली आकर्षण का विशेष केंद्र रहीं।200 से अधिक महिलाओं का यह ग्रुप सबसे आगे चलते हुए रास्ता दिखा रहा था। पगड़ी सहित केसरी परिधान में ये महिला भगवा झंडे उठाए लगातार जय श्री राम का उद्घोष करते हुए शोभायात्रा में उत्साह जगा रही थीं। उन्हें अनेक जगह रोककर श्री राम व हनुमान भजनों पर झूमते हुए भी देखा गया। शोभायात्रा में 30 दर्जन से अधिक जगह प्रदर्शन किया गया। इस अवसर पर तगडा पुलिस बंदोबस्त किया गया था।

पूरी यात्रा में जगह जगह आतिशबाजी चलाकर अयोध्या में होने जा रही रामलला की प्राण प्रतिष्ठा का जशन मनाया गया। रैैली मे भाग लिए लोगों ने बताया कि शोभायात्रा शहर की सभी मंदिरों धार्मिक, सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से आयोजित की गई, जिसमें नगर में 300 से अधिक स्थानों पर शोभायात्रा का माता, बहनों, नौजवान और बुजुर्गों ने स्वागत किया। अलग-अलग ढोल नगाड़े, बैंड बाजे, ताशा पार्टियों ने शोभायात्रा में भाग लिया।

इस शोभायात्रा को सहयोग करने के लिए भाजपा, युवा मोर्चा , महिला मोर्चा, किसान मोर्चा, ओबीसी मोर्चा, सेवा भारती, विश्वव हिन्दू परिषद एवं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ सहित हजारों कार्यकर्ताओं समेत महिला पुरुषों ने शोभायात्रा में भाग लिया। शोभायात्रा नगर क्षेत्र के विभिन्न विभिन्न प्रमुख स्थलों से महादुला मंदिर रोड टी पाईंट में जाकर समाप्त हुई।यहां रूचिकर भोजन प्रसाद लंगर रखा गया जहां सभी हजारों महिला-पुरुषों ने भरपेट स्वादिष्ट भोजन व जलपान पाकर आयोजकों को शुभकामनाएं एवं वधाईयां दी ।

Advertisements

About विश्व भारत

Check Also

(भाग:304) मां शक्ति स्वरूपा दुर्गा का एक रूप प्रेमभक्ति का भी है प्रतीक माना जाता है

(भाग:304) मां शक्ति स्वरूपा दुर्गा का एक रूप प्रेमभक्ति का भी है प्रतीक माना जाता …

(भाग:303) नवरात्र में नौ दुर्गा को आदिशक्ति जगत जननी जगदम्बा भी कहा जाता है

(भाग:303) नवरात्र में नौ दुर्गा को आदिशक्ति जगत जननी जगदम्बा भी कहा जाता है टेकचंद्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *