Breaking News

क्या 19 अप्रैल को होने वाला है लोकसभा चुनाव? जानें इस खबर पर चुनाव आयोग ने क्या कहा?

Advertisements

क्या 19 अप्रैल को होने वाला है लोकसभा चुनाव? जानें इस खबर पर चुनाव आयोग ने क्या कहा

Advertisements

टेकचंद्र सनोडिया शास्त्री: सह-संपादक रिपोर्ट

Advertisements

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2024 की तारीख को लेकर सोशल मीडिया में मैसेज सर्कुलेट हो रहा है. इसमें दावा किया जा रहा है कि चुनाव 19 अप्रैल 2024 को होंगे. यह भी दावा किया जा रहा है 12 मार्च को नोटिफिकेशन जारी किया है। लोकसभा चुनाव होने में कुछ दिन बाकी हैं. तमाम पार्टियां अपने-अपने उम्मीदवार चुनने में जुटी हैं. इस बीच लोकसभा चुनाव की तारीख को लेकर सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो रहा है. मैसेज में दावा किया जा रहा है कि 19 अप्रैल को चुनाव है. हालांकि, चुनाव आयोग ने साफ कर दिया है कि अभी तारीखों का ऐलान नहीं किया गया है.

लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर निर्वाचन आयोग की गृह और रेल मंत्रालय के अधिकारियों के साथ बैठक ली गई है।

लोकसभा चुनाव 2024 की तारीख को लेकर सोशल मीडिया में मैसेज सर्कुलेट हो रहा है. इसमें दावा किया जा रहा है कि चुनाव 19 अप्रैल 2024 को होंगे. मैसेज में यह भी दावा किया जा रहा है 12 मार्च को नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा. नॉमिनेशन 28 मार्च से शुरू होगा. रिजल्ट 22 मई को आ जाएंगे. 30 मई को केंद्र में सरकार बन जाएगी. लेकिन चुनाव आयोग ने इस मैसेज को फर्जी बताया है।

वायरल मैसेज को लेकर चुनाव आयोग ने X प्लेटफॉर्म पर लिखा, “यह मैसेज पूरी तरह से फेक हैं. अभी लोकसभा चुनाव को लेकर कोई भी शेड्यूल जारी नहीं किए गए हैं.”

हाल ही में हुए चुनावों में कैंपेनिंग के गिरते स्तर पर ध्यान रखते हुए चुनाव आयोग ने इस साल फरवरी में सभी राजनीतिक दलों को सार्वजनिक प्रचार में शिष्टाचार और अत्यधिक संयम बनाए रखने को कहा है. आयोग ने चुनाव प्रचार के स्तर को बढ़ाने के लिए एक एडवाइजरी भी जारी की थी.

जनता के बीच सोच-समझकर बोलें… : PM मोदी पर कमेंट को लेकर EC ने दी राहुल गांधी को सलाह

1 मार्च को चुनाव आयोग (ECI) ने चेतावनी दी थी कि आदर्श आचार संहिता के किसी भी उल्लंघन के लिए पार्टियों, उम्मीदवारों और स्टार प्रचारकों को सिर्फ ‘नैतिक निंदा’ के बजाय कड़ी कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा.

आयोग ने कहा- “पार्टी या प्रत्याशी मतदाताओं से जाति, धर्म या भाषा के नाम पर वोट न मांगें. वे भक्त और भगवान के बीच संबंध और उनकी श्रद्धा का मजाक न उड़ाएं. किसी मंदिर, मस्जिद, चर्च, गुरुद्वारा या फिर किसी भी धार्मिक स्थल पर चुनाव प्रचार न करें. ऐसे प्रत्याशी या स्टार कैंपेनर, जिन्हें पहले नोटिस दिया गया है, उन्होंने इस बार किसी निर्देश की अवहेलना की तो उन पर सीधे कड़ी कार्रवाई की है।

 

मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने हाल ही में इस बात पर जोर दिया कि राजनीतिक दलों को नैतिक और सम्मानजनक राजनीतिक प्रवचन को बढ़ावा देना चाहिए, जो समाज को बांटने के बजाय समाज को प्रेरित करता हो. चुनाव निकाय ने आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन से बचने के लिए चुनाव के दौरान पहले से ‘स्टार प्रचारकों’ और उम्मीदवारों को अलर्ट किया है. आंध्र प्रदेश में BJP-TDP और जनसेना का गठबंधन तय! बीजेपी 6 से 8 लोकसभा सीटों पर लड़ेगी

कांग्रेस की लोकसभा उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, 39 नामों का ऐलान; वायनाड से राहुल चुनाव लड़ने को तैयार है ।आप जहां से भी चुनाव लड़ें…”: ममता बनर्जी ने BJP में शामिल हुए पूर्व जज को दी चुनौती

कलकत्ता उच्च न्यायालय के न्यायाधीश पद से इस्तीफा देने के दो दिन बाद अभिजीत गंगोपाध्याय बृहस्पतिवार को बीजेपी में शामिल हो गए हैं. उच्च न्यायालय के न्यायाधीश पद से इस्तीफा देने के कुछ घंटों बाद गंगोपाध्याय ने मंगलवार को घोषणा की थी कि वह बीजेपी में शामिल होंगे.

Advertisements

About विश्व भारत

Check Also

सीनियर अधिवक्ता के साथ दुर्व्यवहार पर सुप्रीम कोर्ट सख्त? सरकार को नोटिस जारी! कह दी बड़ी बात

सीनियर अधिवक्ता के साथ दुर्व्यवहार पर सुप्रीम कोर्ट सख्त? सरकार को नोटिस जारी! कह दी …

“सरकार आणि अधिकारी अपयशी ठरत असताना…” : सर्वोच्च न्यायालयाचे न्यायमूर्ती भूषण गवई यांचे विधान

सर्वोच्च न्यायालयाचे न्यायमूर्ती आणि विदर्भपुत्र भूषण गवई यांचे एक मोठे विधान समोर आले आहे. “सरकार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *