Breaking News

बर्बाद फसलों के सर्वे में पटवारी पर किसानों ने लगाया लापरवाही का आरोप

Advertisements

बर्बाद फसलों के सर्वे में पटवारी पर किसानों ने लगाया लापरवाही का आरोप

Advertisements

टेकचंद्र सनोडिया शास्त्री: सह-संपादक रिपोर्ट

Advertisements

सिवनी। विकासखंड सिवनी की ग्राम पंचायत लखनवाडा के आसपास ओलावृष्टि के कारण किसानों की फसल बर्बाद हो गई है। पिछले दो-तीन दिनों से जिला मुख्यालय समेत जिले भर के सभी विकासखंड क्षेत्र के अनेक गांवों में तेज हवाओं के साथ बारिश व ओलावृष्टि से किसानों की फासले बर्बाद हो गई है। वहीं किसानों को फसल नुकसान का उचित मुआवजा मिल सके इसके लिए उच्चअधिकारियों ने पटवारी को गांव के सभी किसानों के खेतों में लगी फसलों का सर्वे करने का निर्देश जारी तो कर दिया है लेकिन अभी भी अनेक पटवारी ऐसे हैं जो किसानों के सभी खेतों का सर्वे न कर गांव में एक-दो प्रबुद्धजनों, दबंग नेतानुमा किसानों के घर बैठकर सर्वे का काम घर बैठे कर रहे हैं या फिर एक-दो खेतों में बैठकर किया जा रहा है। साथ ही सर्वे के नाम पर चंद खेतों में सर्वे कर वे फोटो खींचकर शासन-प्रशासन को गुमराह भी कर रहे हैं। इससे किसान खासे आक्रोशित व चिंतित नजर आ रहे हैं। इस मामले में किसानों ने कलेक्टर से मांग की है कि इस कार्य में दोषी पटवारी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए।

 

लखनवाडा क्षेत्र के किसानों ने आरोप लगाते हुए बताया कि पटवारी दिनेश पटेल ने अभी सभी किसानों के खेतों में लगी क्षतिग्रस्त हुई फसलों का सर्वे नहीं किया है। वहीं किसानों ने आरोप लगाते हुए यह भी बताया कि किसानों के फोन भी नही उठाते हैं। और ना ही समस्या के समाधान को लेकर प्रयास करते नजर नहीं आते। किसानों का कहना है कि पटवारी कब आते हैं? कब कहां जाते हैं, किसी को जानकारी नहीं रहती ना तो कभी पंचायत में आते है और ना ही फील्ड में नजर आते, बेचारे ओला पीड़ित किसान इस आश में बैठे है कि पटवारी के सर्वे के बाद उन्हें नुकसान का मुआवजा मिलेगा। कुछ किसानों ने आकर बताया कि पटवारी कहता है कि मेरी हर पार्टी में पकड़ है और मैं अपनी मर्जी से नौकरी करता हूं। मुझे न गांव से मतलब है और न किसानों से, कोई मेरा कुछ नहीं बिगाड़ सकता है।

 

इस मामले में लखनवाड़ा क्षेत्र के पटवारी दिनेश पटले का कहना है कि मुश्किल से 5 से 10 परसेंट ही नुकसान हुआ है। लखनवाड़ा समेत उनके क्षेत्र में जितने भी गांव आते हैं उन सभी जगह सर्वे कार्य किया जा चुका है। जो किसान मुझे सूचना दे देंगे उनके खेतों में जाकर सर्वे कर लूंगा।

Advertisements

About विश्व भारत

Check Also

वनकर्मचारी निलंबित : ‘ईव्हीएम’चे व्हाट्सअप स्टेटस भोवले

चंद्रपूर-वणी- आर्णी लोकसभा मतदार संघातील पांढरकवडा वनविभागाच्या एका कर्मचाऱ्याला इलेक्ट्रॉनिक व्होटिंग मशिन अर्थात ‘ईव्हीएम’च्या कार्यक्षमतेवर …

वनमंत्री सुधीर मुनगंटीवार यांची समाज माध्यमावर बदनामी

राज्याचे वनमंत्री सुधीर मुनगंटीवार यांची समाज माध्यमावर बदनामी केल्याप्रकरणी माजी नगरसेवक बलराम डोडानी व अन्य …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *